5 तरीके आयत का परिमाप व आयत का परिमाप का सूत्र ज्ञात करने के

Spread the love

इस नोट्स में आयत का परिमाप (ayat/aayat ka parimap) कैसे ज्ञात करते है और 5 आयत का परिमाप का सूत्र (aayat ka parimap ka sutra) बताया गया है

आयत का परिमाप ( Aayat Ka Parimap)

आयत के चारो भुजाओ के लम्बाई का योग आयत का परिमाप कहलाता है|

निम्न चित्र में एक आयत दिखाया गया है जिसकी चार भुजाए AB, BC, CD, DA जो लाल रंग से दर्शायी गयी है इन सभी भुजाओ का योग ही परिमाप के बराबर होता है

आयत का परिमाप क्या होता है
AB\dotplus BC\dotplus CD \dotplus DA

जहाँ AB, BC, CD और DA आयात की भुजाये है

आयत का परिमाप का सूत्र ( Aayat Ka Parimap Ka Sutra)

माना भुजा AB की लम्बाई a है भुजा BC की लम्बाई b है भुजा CD की लम्बाई c है भुजा DA की लम्बाई d है
इस प्रकार

a\dotplus a\dotplus b\dotplus b
2\left ( a\dotplus b \right )
आयत के परिमाप का सूत्र
एक आयत जिसकी चार भुजाये 10 cm, 10 cm, 7 cm, 7 cm है इसका परिमाप क्या होगा ?

Ans – 34 cm2
हल  – दिया है a = 10 cm, a = 10 cm, b = 7 cm, b =  7 cm इस प्रकार के प्रशनो को हल करने के लिए सभी भुजाओ की लम्बाई का योग कर लेते है  परिमाप = 10 + 10 + 7 + 7 

आयत का परिमाप के प्रशन उत्तर

महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

  • आयत की दो असमान भुजाओ का मान दिया हो तो परिमाप कैसे ज्ञात करे ?

विधि

  1. पहले दोनों भुजाओ का योग कर लेते है 
  2. योग में दो से गुणा या दोगुना कर परिमाप ज्ञात कर लेते है 

2. एक आयत जिसकी भुजाओ की लम्बाई = 20 cm, चौड़ाई = 10 cm परिमाप ज्ञात करे ?

हल 

 लम्बाई = 20 cm 

चौड़ाई = 10 cm 

लम्बाई + चौड़ाई = 20 cm + 10 cm 

2 ( लम्बाई + चौड़ाई ) = 2 ( 20 + 10 )

2 x 30 

60 

3. प्रशन में आयात की लम्बाई, छेत्रफल दिया हो तो परिमाप कैसे ज्ञात करे ?

 विधि – 

  1. पहले छेत्रफल के सूत्र से आयत की चौड़ाई ज्ञात कर लेते है
  2. सूत्र = 2 ( लम्बाई + चौड़ाई ) में लम्बाई और चौड़ाई का मान रखकर परिमाप का मान ज्ञात कर लेते है 

4. एक आयत जिसकी भुजाओ की लम्बाई = 20 cm, छेत्रफल  = 40 cm  परिमाप ज्ञात करे ?


हल 

लम्बाई = 20 cm  छेत्रफल  = 40 cm  चौड़ाई = ?, परिमाप = ?

आयत\: का\: छेत्रफल = लम्बाई\times चौड़ाई

40 cm = 20 cm x चौड़ाई 

चौड़ाई = 20 cm  Ans

परिमाप = 2 ( लम्बाई + चौड़ाई )

2 ( 20 + 20 ) = 40 x 2  80 cm    

समांतर चतुर्भुज आयत
पूरक कोण संपूरक कोण
न्यून कोणअधिक कोण
ऋजु कोणवृहत कोण

You may also like

This Post Has 2 Comments

  1. Unknown

    समझाने का तरीका अच्छा लगा । धन्यवाद

Leave a Reply