समद्विबाहु त्रिभुज का क्षेत्रफल, परिभाषा, परिमाप, लम्ब की लम्बाई का सूत्र

समद्विबाहु त्रिभुज की परिभाषा वह त्रिभुज जिसकी दो भुजाये बराबर हो समद्विबाहु त्रिभुज  (Isosceles Triangle) कहलाता है|  समद्विबाहु त्रिभुज किसे कहते हैं? समद्विबाहु त्रिभुज जैसा की इसके नाम नाम के लगे अंत में त्रिभुज शब्द से पता चलता है| की यह एक प्रकार का त्रिभुज है| या त्रिभुज का एक प्रकार है| लेकिन यह किस प्रकार … Read more

समकोण त्रिभुज के क्षेत्रफल, परिमाप,लम्ब, आधार, कर्ण सूत्र व परिभाषा

समकोण त्रिभुज की परिभाषा ऐसे त्रिभुज जिनकी दो भुजाओ के बीच 90० ( समकोण ) हो या वे त्रिभुज जिनके एक कोण समकोण हो जैसा चित्र में दर्शाया गया है| जैसा कि उपरोक्त चित्र में प्रदर्शित किया गया है| एक समकोण त्रिभुज जिसकी तीन भुजाएं AB, BC, AC है| और त्रिभुज का एक कोण ∠ ABC … Read more

ऊष्मा की परिभाषा, प्रकार, चालन, संवहन, विकिरण, संचरण की विधियां

ऊष्मा की परिभाषा || ऊष्मा के प्रकार || ऊष्मा संचरण की विधियां || ऊष्मा विकिरण || ऊष्मा का संवहन || ऊष्मा का चालन ऊष्मा की परिभाषा :-  उष्मा वह एनर्जी (उर्जा ) है । जो एक वस्तु से दूसरे वस्तु में टेंप्रेचर डिफरेंट ( तापांतर ) के कारण उत्पन्न होती है ।  उष्मा ( हिट ) सदैव ऊंचे … Read more

पूरक कोण किसे कहते हैं | इसकी परिभाषा/अर्थ, मान और योग

पूरक कोण किसे कहते हैं। समकोण (Right angle) के बराबर किन्ही दो कोनों को purak kon कहते है। पूरक कोण की परिभाषा दो कोणों का योग समकोण (Right angle) के बराबर हो तो ऐसे कोणों को “purak kon” कहते है।  गणित के सभी कोण  पूरक कोण का अर्थ वे कोण जिनका योग 90० हो। पूरक कोण का मान … Read more

ऊर्जा संरक्षण के उपाय 0% से 95% तक विधुत, एलपीजी, पेट्रोलियम उर्जा बचाए इन आसन विधि से

                                 ऊर्जा संरक्षण के उपाय इस आर्टिकल में उर्जा संरक्षण के उपाय के विषय में बताया गया है विधुत ऊर्जा संरक्षण के उपाय :- आवस्यकता ना होने पर विधुत से चलने वाले उपकरण बंद (Close) कर देना चाहिए।   हमेशा LED TV … Read more

द्रव्यमान संरक्षण का नियम या द्रव्य की अविनाशिता का नियम क्या है।

द्रव्यमान संरक्षण का नियम   द्रव्यमान संरक्षण का नियम या द्रव्य की अविनाशिता का नियम एक ऐसा सिद्धांत (Theory) है।  जो ये बताता है।  की ब्रह्माण्ड (Universe) में उपस्थित किसी भी द्रब्य का द्रब्यमान (mass) नियत हिता है। अर्थात द्रब्य ना तो नष्ट (Destroyed) हो सकता है ।  ना ही उत्पन्न (Generated)।  क्या आप सोच रहे है। द्रब्य के द्रब्यमान को नष्ट किया जा सकता है। आप गलत सोच रहे है। क्योकि द्रब्य को … Read more

वृत्त की परिभाषा, जीवा, त्रिज्या, परिधि, व्यास आसान शब्दों में

परिभाषा: एक तल में स्थित उन सभी बिन्दुओ का समुच्चय जिनमे से प्रतेक बिंदु एक स्थिर बिंदु से एक अचर दुरी पर स्थिर हो वृत्त कहलाता है| विस्तृत विवरण : उपरोक्त परिभाषा को हम एस प्रकार समझ सकते है | माना एक बिंदु O है | इस बिंदु से सामान दुरी  पर अनेक बिंदु अंकित … Read more

शीर्षाभिमुख कोण की परिभाषा प्रतियोगी परिछाओ में पूछे जाने वाले महत्वा पूर्ण प्रसनो के साथ

शीर्षाभिमुख कोण की परिभाषा नमस्कार दोस्तों ! हम एस आर्टिकल में शीर्षाभिमुख कोण (vertically opposite angles) की परिभाषा जानेगे “जब दो रेखाए एक दुसरे को कटती हो तो एक दुसरे के विपरीत बना कोण, शीर्षाभिमुख कोण (vertically opposite angles) कहलाता है |”  उदाहरण  शीर्षाभिमुख कोण (vertically opposite angles) को समझाने के लिए सबसे पहले दो रेखा खिचे जो … Read more

आसन्न कोण की परिभाषा | आसन्न कोण क्या होता है | आसन्न कोण किसे कहते हैं | आसन्न कोण in english

आसन्न कोण की परिभाषा आसन्न कोण (adjacent angle) की परिभाषा – वैसे दो कोण जिसकी एक भुजा उभयनिस्ट हो और उनका एक ही शीर्ष हो आसन्न कोण (adjacent angle) कहलाता है। or यदि कोई किरण किसी रेखा पर खड़ी हो तो इस प्रकार बने दो आसन्न कोणों (adjacent angle) का योग 180 होता है| or यदि दो आसन्न … Read more

संपूरक कोण किसे कहते हैं प्रतियोगी परीछा में आने वाले महत्वपूर्ण प्रशन

हम इस आर्टिकल में  संपूरक कोण (supplementary angle) के बारे में जानेंगे की संपूरक कोण (supplementary angle) किसे कहते हैं। और इस टॉपिक से प्रतियोगी परीछा में आने वाले प्रश्नों का अध्ययन करेंगे। अक्सर संपूरक कोण (supplementary angle) से अलग अलग एग्जाम में प्रशन आते रहते हैं। संपूरक कोण शब्द का नाम सुनाने पर हमारे … Read more