पतंगाकार चतुर्भुज की परिभाषा, गुणधर्म, परिमाप, परिमाप सूत्र, क्षेत्रफल, क्षेत्रफल सूत्र

पतंगाकार चतुर्भुज की परिभाषा

पतंगाकार चतुर्भुज की आसन भुजाएं बराबर होती है और विकर्ण लंबवत होते हैं| 

पतंगाकार चतुर्भुज

गुणधर्म 

1 .इसके आसन्न भुजाएं समान होती है| जैसा कि उपरोक्त चित्र में दिखाया गया है| चतुर्भुज ABCD में भुजा BC = CD और AB = AD हैं|

2 . इसके दोनों विकर्ण की लंबाई है समान नहीं होती है| विकर्ण AC ≠ AD 

3 . इसकी भी विकर्ण एक दूसरे को  समकोण पर काटते हैं|

4 . इसमे बने कोण ∠ABC = ADC लेकिन ∠BCD ≠ ∠BAD

5 . विकर्ण AC विकर्ण BD को बराबर भागो में बाटता है| रेखा BO = OD

6 . विकर्ण AC से बनने वाले त्रिभुज ABC और त्रिभुज ADC सर्वागसम होगे|

7 . विकर्ण AC इस को दो बराबर भागो में बाटता है|

8 .  कोण ∠DBC = ∠CDB

9 .  कोण ∠BCO = ∠BCA = ∠DCO = ∠DCA 

10 . कोण ∠ABD = ∠ABO = ∠ADO = ∠ADB

11 . कोण ∠BAO = ∠DAO = ∠BAC = ∠DAC

पतंगाकार चतुर्भुज का परिमाप

चारो भुजाओ की लम्बाई का योगफल ही इस चतुर्भुज का परिमाप होगा|

परिमाप सूत्र

परिमाप = AB + BC + CD + DA =  a + b + a + b 

पतंगाकार चतुर्भुज की परिभाषा, गुणधर्म, परिमाप, परिमाप सूत्र, क्षेत्रफल, क्षेत्रफल सूत्र 1

पतंगाकार चतुर्भुज का क्षेत्रफल

दोनों विकर्ण की लम्बाई के गुणनफल का आधा इस चतुर्भुज का क्षेत्रफल होता है|

क्षेत्रफल सूत्र

क्षेत्रफल का सूत्र = 12 x d1 x d2 = ab sinፀ

  1. इस चतुर्भुज की दो भुजाये a, b क्रमशः 5 cm और 6 cm है| तो परिमाप होगा?

हल – परिमाप सूत्र = 2(5+6) = 22 cm

समचतुर्भुज समान्तर चतुर्भुज
आयत वर्ग

You may also like

You may also like

This Post Has 7 Comments

Leave a Reply

Close Menu
FB.getLoginStatus(function(response) { statusChangeCallback(response); }); { status: 'connected', authResponse: { accessToken: '...', expiresIn:'...', signedRequest:'...', userID:'...' } }
×
×

Basket