प्राकृतिक संख्या किसे कहते हैं? इसकी परिभाषा, सूत्र, योगफल आदि PDF में

इस आर्टिकल में प्राकृतिक संख्या की परिभाषा, सूत्र, योगफल एव महत्वपूर्ण प्रशन को विस्तार से बताया गया है। सबसे बड़ी प्राकृतिक संख्या कौन सी है? और सबसे छोटी प्राकृतिक संख्या कौन सी है?

Table of Contents

प्राकृतिक संख्या का परिचय

हम अपने चारो तरफ उन संख्याओं को देखते है। जो वस्तुओं को गिनने में काम आता है। जैसे रुपये की गिनती, किताबों की गिनती, समय की गिनती ( 5:48), वे सभी प्राकृतिक संख्याये होती है। Ex – 5 किताब, 7 पेन, 8 लडके, 5 रुपये आदि।

प्राकृतिक संख्या की परिभाषा

जिन संख्याओं से वस्तुओं की गणना की जा सकती है, उन्हें प्राकृतिक संख्या कहते है। किसी भी वस्तु की गिनती धनात्मक संख्या में होती है। अतः प्राकृतिक संख्या धनात्मक होती है। प्राकृतिक संख्याओं में शून्य को शामिल नहीं किया गया है।

ये संख्याये 1 से सुरु होकर अनंत तक समाप्त होती है। N = 1,2,3,4,5 ——— 

प्राकृतिक संख्या किसे कहते हैं?

प्राकृतिक संख्या PDF में डाउनलोड करे।

प्राकृतिक संख्या किसे कहते हैं?

1 से अनंत तक सभी धनात्मक संख्याओं को प्राकृतिक संख्या कहते है। सभी प्राकृतिक संख्याये पूर्ण संख्याये होती है, लेकिन सभी पूर्ण संख्याये प्राकृतिक संख्याये नहीं होती है।

प्राकृतिक संख्याओं के प्रकार

  1. सम प्राकृतिक संख्या
  2. विषम प्राकृतिक संख्या
  3. अभाज्य प्राकृतिक संख्या

सम प्राकृतिक संख्या

वे प्राकृतिक संख्या 2 दो से विभाजित हो जाती है, उन्हें सम प्राकृतिक संख्या कहते है। जैसे – 4, 6, 8, 10, 12, 14 आदि।

विषम प्राकृतिक संख्या

वे प्राकृतिक संख्या जो 2 से विभाजित नहीं होती है, विषम प्राकृतिक संख्या कहते है। जैसे – 3, 5, 7, 9, 11, 13, 15 आदि।

अभाज्य प्राकृतिक संख्या

वे प्राकृतिक संख्या जो 1 से और स्वंय से विभाजित होती है, अभाज्य प्राकृतिक संख्या कहते है। जैसे – 2, 3, 5, 7 आदि।

प्राकृतिक संख्याओं के गुण

क्लोसूरे प्रॉपर्टी (Closure Property)
अस्सोसिएटिवे प्रॉपर्टी (Associative Property)
कम्यूटेटिवे प्रॉपर्टी (Commutative Property)

क्लोसूरे प्रॉपर्टी (Closure Property)

  • दो प्राकृतिक संख्याओं का योग हमेशा प्राकृतिक संख्या ही होगा। जैसे – (2+5) = 7, 2 और 5 प्राकृतिक सख्याओ को जोड़ने पर 7 प्राप्त होता है। 7 एक प्राकृतिक संख्या है।
  • दो प्राकृतिक संख्याओं का गुणा हमेशा प्राकृतिक सख्या होता है। 2×5 = 10, जहाँ 2 और 5 प्राकृतिक संख्या है। 2 और 5 का गुणनफल 10 प्राप्त होता है। 10 एक प्राकृतिक संख्या है।

अस्सोसिएटिवे प्रॉपर्टी (Associative Property)

  • तीन प्राकृतिक संख्याओं का योग हमेशा प्राकृतिक संख्या ही होगा। इनकी स्थितियाँ बदल देने पर भी प्राकृतिक संख्या प्राप्त होता है। जैसे a+(b+c)=(a+b)+c ⇒ 2+(3+1)=2+4=6
  • तीन प्राकृतिक संख्याओं को किसी भी स्थिति में गुणा किया जाये तो प्राकृतिक सख्या ही प्राप्त होती है। जैसे a×(b×c)=(a×b)×c ⇒ 2×(3×1)=2×3=6

कम्यूटेटिवे प्रॉपर्टी (Commutative Property)

  • दो प्राकृतक संख्याओं का किसी भी स्थिति में योग प्राकृतिक संख्या ही होता है। a+b=b+a ⇒ 8+9=17 and b+a=9+8=17.
  • दो प्राकृतिक संख्याओं का किसी भी स्थिति में गुणा प्राकृतिक संख्या ही होता है। a×b=b×a ⇒ 8×9=72 और 9×8=72.

प्राकृतिक संख्याओं का योग कैसे ज्ञात करें?

प्राकृतिक संख्याओं का योग ज्ञात करने के लिए निम्न सूत्र का प्रयोग करते हैं।

प्राकृतिक संख्याओं के सूत्र

  • प्रथम n प्राकृतिक संख्याओं का औसत = (n+1) /2
  •  प्रथम n प्राकृतिक सम संख्याओं का औसत = n+1
  • प्रथम n प्राकृतिक विषम संख्याओं का औसत = n
  • लगातार n तक प्राकृतिक सम संख्याओं का औसत
  • लगातार यन तक विषम प्राकृतिक संख्या का योग = (n/2+1)
  • लगातार यन तक विषम प्राकृतिक संख्याओं का औसत = (n+1) /2

1 से 100 प्राकृतिक संख्या

1 से 100 तक की प्राकृतिक संख्याएँ
natural number list from 1 to 100

1 से 100 तक की सभी प्राकृतिक संख्याओं की सूचि PDF में

प्रथम बीस प्राकृतिक संख्या कौन सी है?

12345
678910
1112131415
1617181920

प्रतेक पूर्ण संख्या प्राकृतिक संख्या है

शून्य को छोड़कर सभी पूर्ण संख्याये प्राकृतिक संख्या है| क्याकि पूर्ण संख्या का मान शून्य से अनंत तक होता है| वही प्राकृतिक संख्या एक से अनंत तक होती है|

25 और 36 के बीच कितनी प्राकृतिक संख्या है?

25 और 36 के बीच 10 प्राकृतिक संख्या है| (26, 27, 28, 29, 30, 31, 32, 33, 34, 35)

1 से 100 तक की प्राकृतिक संख्याओं का औसत ज्ञात कीजिये?

संख्याओं का औसत = कुल संख्याओं का योग / कुल संख्याएं
संख्याओं का औसत = (1+100) /2 = 101/2 = 50.5

1 से 100 तक की प्राकृतिक संख्याओं

प्राकृतिक संख्याओं का योग = संख्याओं का औसत ×  संख्याएं
प्राकृतिक संख्याओं का योग = 50.5×100
= 5050 ans

1 से 100 तक सम संख्याओं का औसत?

 संख्याओं का औसत =  कुल संख्याओं का योग × कुल संख्याएं
संख्याओं का औसत = (2+100) /2 = 102/2 = 51 ans

1 से 100 तक सम प्राकृतिक संख्याओं का योग?

प्राकृतिक संख्याओं का योग = औसत × कुल संख्याएं
प्राकृतिक सम संख्याओं का योग = 51×51 = 2550

1 से 100 तक विषम संख्याओं का योग और औसत?

विषम संख्याओं का औसत = कुल संख्याओं का योग / कुल संख्याएं
विषम संख्याओं का औसत =  संख्याओं का योग ×  कुल संख्याएं
विषम संख्याओं का औसत = (1+99) /2 = 50
विषम संख्याओं का योग = 50×50 = 2500

सबसे छोटी प्राकृतिक संख्या कौन सी है?

सबसे छोटी प्राकृतिक संख्या 1 है।

सबसे बडी प्राकृतिक संख्या कौन सी है?

सबसे बड़ी कोई प्राकृतिक संख्या नहीं है। क्योकि प्राकृतिक संख्या 1 से अनंत तक होती है।

1 thought on “प्राकृतिक संख्या किसे कहते हैं? इसकी परिभाषा, सूत्र, योगफल आदि PDF में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *