समद्विबाहु त्रिभुज की रचना (भाग-3)

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना (भाग-3)

Spread the love

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना है| त्रिभुज के प्राप्त घटकों के आधार पर की जाती है| एक घटक त्रिभुज की भुजा और कोर हो सकते हैं|

जैसा कि हम जानते हैं कि किसी भी त्रिभुज में छः घटक होते हैं| तीन घटक कोण के होते हैं| और तीन घटक भुजा के होते हैं|

अर्थात किसी भी त्रिभुज की रचना के लिए इन घटकों में से किन्ही तीन घटकों की जानकारी होना आवश्यक है|

तभी हम किसी भी त्रिभुज की रचना कर सकते हैं| हम समदिबाहु त्रिभुज की रचना चरण दर चरण इनके प्राप्त घटकों के आधार पर करेंगे|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना कैसे करेंगे जब दो कोण और एक भुजा प्राप्त हो?

प्रथमः उदाहरण

एक समद्विबाहु त्रिभुज जिसके दो कोण का मान 30० है| और इसकी एक भुजा का मान 5 cm है| इस त्रिभुज की रचना कीजिये?

समद्विबाहु त्रिभुज प्रथमः रचना

प्रथम चरण

सर्वप्रथम हम 5 सेंटीमीटर वाली भुजा को आधार मानकर एक 5 cm की क्षैतिज रेखा खिचेंगे| जिसे रेखा AB से अंकित करेंगे|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना

द्वितीय चरण

30० पर रेखा AB के बिंदु एसी एक रेखा P तक खिचेंगे| जो रेखा AB की लंबाई से अधिक होगा|

जैसा कि निम्न चित्र में दर्शाया गया है| की एक रेखा AB जिसकी लंबाई 5 सेंटीमीटर है| रेखा AB से 30० पर बिंदु A से P तक रेखा AP खींची गई है|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना

30० पर रेखा AB के बिंदु एसी एक रेखा Q तक खिचेंगे| जो रेखा AB की लंबाई से अधिक होगा|

जैसा कि निम्न चित्र में दर्शाया गया है| की एक रेखा AB जिसकी लंबाई 5 सेंटीमीटर है|

रेखा AB से 30० पर बिंदु A से Q तक रेखा AQ खींची गई है|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना (भाग-3) 1

हम देखते है की रेखा BQ और रेखा AP एक दुसरे को बिंदु O पर काटते है| अतः भुजा AO और भुजा BO बराबर होगे|

क्योकि इसके दो कोण समान है| हम जानते है की समद्विबाहु त्रिभुज में दो कोण और दो भुजाये बराबर होती है|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना कैसे करेंगे जब दो भुजा और एक कोण प्राप्त हो?

द्वितीय उदहारण

एक समद्विबाहु त्रिभुज जिसके दो भुजा का मान 5 cm है| और इसकी एक कोण का मान 30० है| इस त्रिभुज की रचना कीजिये?

समद्विबाहु त्रिभुज की द्वितीय रचना

प्रथम चरण

सर्वप्रथम हम 5 सेंटीमीटर वाली भुजा को आधार मानकर एक 5 cm की क्षैतिज रेखा खिचेंगे| जिसे रेखा AB से अंकित करेंगे|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना

द्वितीय चरण 

30० पर रेखा AB  के बिंदु एसी एक रेखा P तक खिचेंगे|  जो रेखा AB की लंबाई के बराबर होगा|

रेखा AQ को बिंदु A 5 cm जैसा कि निम्न चित्र में दर्शाया गया है|  की एक रेखा AB जिसकी लंबाई 5 सेंटीमीटर है|

रेखा AB से 30० पर बिंदु A से P तक रेखा AP खींची गई है| जिसकी लम्बाई 5 cm है|

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना

तृतीय चरण

अब बिंदु P को बिंदु B से मिला देंगे |

समद्विबाहु त्रिभुज की रचना

इस प्रकार समद्विबाहु त्रिभुज की रचना हो गयी|

1. समद्विबाहु त्रिभुज किसे कहते हैं? ( भाग-1 )
2. समद्विबाहु त्रिभुज के प्रकार (भाग-2)
3. समद्विबाहु त्रिभुज की रचना (भाग-3)
4. समद्विबाहु त्रिभुज का लम्ब (भाग-4)
5. समद्विबाहु त्रिभुज का क्षेत्रफल ज्ञात करने का सूत्र (भाग-5)
6. समद्विबाहु त्रिभुज का क्षेत्रफल का सूत्र कैसे याद करे? (भाग-6)
7. समद्विबाहु त्रिभुज का क्षेत्रफल कैसे ज्ञात करे? (भाग-7)
8. समद्विबाहु त्रिभुज का परिमाप (भाग-8)
9. आधुनिक समद्विबाहु समकोण त्रिभुज का क्षेत्रफल का सूत्र (भाग-9)

You may also like

Leave a Reply