Tag Archives: आसन्न कोण क्या होता है

आसन्न कोण की परिभाषा | आसन्न कोण क्या होता है | आसन्न कोण किसे कहते हैं | आसन्न कोण in english

आसन्न कोण की परिभाषा

आसन्न कोण (adjacent angle) की परिभाषा – वैसे दो कोण जिसकी एक भुजा उभयनिस्ट हो और उनका एक ही शीर्ष हो आसन्न कोण (adjacent angle) कहलाता है।

or

यदि कोई किरण किसी रेखा पर खड़ी हो तो इस प्रकार बने दो आसन्न कोणों (adjacent angle) का योग 180 होता है|

or

यदि दो आसन्न कोणों (adjacent angle) का योग 180 हो तो उनकी बाह्य भुजाये एक ही रेखा पर होती है |

आसन्न कोण की परिभाषा की ब्याख्या बिस्तार से

आसन्न कोण की परिभाषा | आसन्न कोण क्या होता है | आसन्न कोण किसे कहते हैं | आसन्न कोण in english 1

माना एक रेखा ∠AB है जिस पर C एक बिंदु है बिंदु C पर रेखा D आकर मिलती है| जिससे दो कोण का निर्माण होता है|

∠ACD और कोण ∠BCD | एन दोनों कोणों का योग 180 है| ∠ACD और ∠BCD आसन्न कोण है

प्रतियोगी परिछाओ में पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूण प्रसन

Q1 – दिए गये चित्र में AOB एक सरल रेखा (simple Line) है| जिस पर किरण OC खड़ी है| यदि a:b = 2:1 हो तो a का मान क्या होगा ?

आसन्न कोण की परिभाषा | आसन्न कोण क्या होता है | आसन्न कोण किसे कहते हैं | आसन्न कोण in english 2

विकल्प

(a) 80                       (b) 100

(c)  120                     (d) 140

हल – माना a = 2x तथा b = x

⇨a+b =  180

⇨2x + x = 180

⇨3x = 180 — x = 60

प्रसन 2 – दिए गये चित्र में AOB एक सरल रेखा है |जिस पर किरण OC खड़ी है |(a -b) = 80 हो, तो a का मान क्या होगा?

आसन्न कोण की परिभाषा | आसन्न कोण क्या होता है | आसन्न कोण किसे कहते हैं | आसन्न कोण in english 3

विकल्प

(a) 150                      (b) 130
(c) 110                       (d) 140

हल

स्पस्ट है की a+b = 180        …………..(i)

⇨तथा  a-b = 80                      ………(ii)

⇨इन्हे जोड़ने पर ((a+b) + (a-b)) = 180+80

⇨2a = 260

⇨a = 130

प्रसन 3 – दिये गये चित्र में AOB एक सरल रेखा है | जिस पर किरण OC खड़ी है |यदि AOC = (3x -5) तथा BOC = (2x + 25) हो, x का मान बताईये ?

आसन्न कोण की परिभाषा | आसन्न कोण क्या होता है | आसन्न कोण किसे कहते हैं | आसन्न कोण in english 4

बिकल्प

(a) 30                       (b) 28
(c) 34                       (d) 32

हल

स्पस्ट है की AOC + BOC = 180

⇨(3x -5) + (2x + 25) = 180

⇨5x + 20 = 180

⇨5x = 160

⇨ x =32

संपूरक कोण किसे कहते हैं           सम्मुख कोण की परिभाषा      सरल कोण  की परिभाषा

अनुपूरक कोण परिभाषा               एकांतर कोण की परिभाषा      न्यून कोण की परिभाषा