Tag Archives: रासायनिक समीकरण

रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं? रासायनिक समीकरण की कमियाँ

रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं?

वह समीकरण जो अभिकारक तथा उत्पाद के सूत्र को प्रदर्शित करता है, उसे रासायनिक समीकरण कहलाता है।

  • रासायनिक समीकरण लिखते समय बाई ओर अभिकारको के सूत्र तथा दाई ओर उत्पाद के सूत्र लिखा जाता है।
  • दोनों पक्षों के बीच तीर का चिन्ह लगाते है।
  • अभिकारक या उत्पादो के बीच धन का चिंह लगा देते हैं।
रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं? रासायनिक समीकरण की कमियाँ 1

Note– मोल की संख्या = स्ट्रैकियो गुणांक = अणु की संरचना

1 मोल CH 4 , 2 मोल ऑक्सीजन का अभिक्रिया करने पर 1 मोल CO 2 और 2 मोल H 2 O प्राप्त होता है।
(or)
1 अणु CH 4 , 2 अणु O2 से अभिक्रिया करने पर 1 अणु CO 2 और 2 अणु H 2 O प्राप्त होता है
(or)
16 gram ch4 का 64 gram o2 से अभिक्रिया करने पर 44 GRAM CO 2 और 36 GRAM H2 O प्राप्त होता है।

रासायनिक समीकरण की कमियाँ

  • रासायनिक समीकरण द्वारा पता नही लगाया जा सकता की अभिक्रिया कितने समय में ख़त्म हुआ है।
  • प्रयुक्त पदार्थो के सांद्रण का ज्ञान नहीं होता है।

रासायनिक समीकरण कितने प्रकार के होते हैं?

रासायनिक समीकरण को दो भागो में बाटा गया है जो निम्न प्रकार से है –
(1) – आणविक समीकरण
(2) – परमाण्विक समीकरण

(1)-आणविक समीकरण

आणविक समीकरण वह समीकरण होता है जिसमें आयनिक यौगिक को’ आयनों के घटक, के रूप में व्यक्त ना करके अणुओं के रूप में व्यक्त किया जाता है

रासायनिक समीकरण संतुलित कैसे करते हैं?

हिट एंड ट्रायल विधि या अनुमान विधि

सर्वप्रथम अभिकारक को तीर के बाईं ओर तथा उत्पादों को दाएं और उनके सूत्र के रूप में लिखा जाता है। फिर जो परमाणु सबसे कम संख्या में आया है उसे पहले संतुलित किया जाता है।

रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं? रासायनिक समीकरण की कमियाँ 2