वृहत कोण की परिभाषा-वह कोण, जिसका मान 180 से अधिक और 360 से..

Spread the love

वृहत कोण की परिभाषा-वह कोण, जिसका मान 180 से अधिक और 360 

वृहत कोण की परिभाषा

180° और 360° के मध्य सभी कोण वृहत कोण  की श्रेणी में आते है

वृहत कोण की परिभाषा, वृहत कोण किसे कहते हैं, वृहत कोण क्या है, वृहत कोण किसे कहते है

वह कोण, जिसका मान 180° से अधिक और 360° से  कम होता है।  वृहत कोण  की श्रेणी में आता है।

वृहत कोण की परिभाषा

जैसा की उपरोक्त चित्र में दर्शाया गया है। 0° से 90° के बीच के कोण न्यून कोण, 90° से 180° के बीच के कोण अधिक कोण, 180° से 270 और 270° से 360° के मध्य बृहद कोण आते है।   

निम्न प्रश्नों में आप को चार विकल्प दिए गए। विकल्पों का अवलोकन करके आप को यह तय करना है की उनमे से कौन सा बृहद कोण है।   

Q1

वृहत कोण की परिभाषा

Ans- (c)  

Q2

वृहत कोण की परिभाषा

Ans-(d)  

Q3- 45°, 70°, 90°, 185°  

  1. 45°
  2. 70°
  3. 90°
  4. 185°

Ans-185°  

Q4– 195°, 180°, 35°, 20°

  1. 195°
  2. 180°
  3. 35°
  4. 20°

Ans-195°  

Q5- 88°, 58°, 20°, 220°

  1. 88°
  2. 58°
  3. 20°
  4. 220°

Ans-4  

संपूरक कोण पूरक कोण 
शीर्षाभिमुख कोणआसन्न कोण
न्यून कोणअधिक कोण
ऋजु कोणवृहत कोण

You may also like

This Post Has 15 Comments

Leave a Reply